जीव अजीव की पहचान हुए बिना मन का भ्रम नहीं मिटता। सम्यक्त्व आए बिना कर्म का निरोध नहीं होता।

- आचार्य श्री भिक्षु महाराज

स्वाध्याय

साध्य-साधन- संज्ञान

-आचार्यश्री महाप्रज्ञ

06 May - 12 May 2024

साध्य-साधन- संज्ञान

रचनाएं

हम कैसे कथा सुनायें

साध्वी पीयूषप्रभा

06 May - 12 May 2024

हम कैसे कथा सुनायें

रचनाएं

स्वर्ग से सुंदर

साध्वी कुमुदप्रभा

06 May - 12 May 2024

 स्वर्ग से सुंदर
PDF जैन पंचांग